MP Board : जनरल प्रमोशन के बाद 10वीं के छात्रों को एक और बड़ी राहत

भोपाल।

एमपी बोर्ड (MP Board) के दसवीं के छात्रों के लिए एक राहत भरी खबर है। माशिमं द्वारा रिजल्ट को लेकर एक बड़ा फैसला लिया गया है, जिसके तहत छात्रों को बेस्ट ऑफ 5 के बजाय बेस्ट ऑफ 4 के आधार पर पास किया जाएगा।वैसे हर साल प्रदेश के करीब 1 लाख विद्यार्थी को बेस्ट ऑफ फाइव के तहत पास किया जाता था, लेकिन जनरल प्रमोशन देने के चलते इस बार इसका लाभ किसी को नही मिलेगा हालांकि बेस्ट ऑफ 4 से छात्रों को रिजल्ट में काफी हद तक मदद मिलने की उम्मीद है। प्रदेश के कई छात्रों को इसका लाभ मिलेगा। मंडल के इस फैसले के बाद छात्रों में खुशी की लहर है।

दरअसल,कोरोना के चलते प्रदेश की शिवराज सरकार (shivraj sarkar)ने दसवीं के छात्रों को बचे हुए दो पेपर को निरस्त कर जनरल प्रमोशन(general promotion) देने का ऐलान किया है, जिसके बाद माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा रिजल्ट की तैयारी की जा रही है। अभी तक विद्यार्थियों को बेस्ट ऑफ फाइव योजना(best of five schems) के तहत पास किया जाता था, लेकिन जनरल प्रमोशन के चलते इस बार इस योजना का लाभ नही मिलेगा, हालांकि रिजल्ट का प्रतिशत कम ना हो इसके लिए मंडल द्वारा ”बेस्ट ऑफ फोर” पर विचार किया जा रहा है।इस योजना के तहत अगर कोई छात्र सिर्फ तीन विषयों में ही पास है और एक विषय में फेल हो रहा है तो फिर ऐसे छात्र को तीन विषयों के नंबर के आधार पर चौथे विषय में पासिंग मार्क्स दिए जाएंगे। इससे अधिक से अधिक विद्यार्थियों के पास होने की संभावना रहेगी। जिन विषयों के पेपर नहीं हुए। उनमें मार्कशीट पर विषय के सामने सिर्फ पास लिखा जाएगा।

बता दे कि बेस्ट ऑफ 5 योजना शिक्षण सत्र 2017-18 में लागू हुई थी। इसके तहत 10वीं में छह विषयों में से सिर्फ पांच में ही पास होना अनिवार्य है। यदि विद्यार्थी एक पेपर में फेल हो जाता है तो उसे पास माना जाएगा। लेकिन इस बार जनरल प्रमोशन दिए जाने के चलते इस योजना में बड़ा बदलाव किया गया है , जिसके तहत इस बार चार विषयों को आधार बनाया जाएगा और छात्रों को लाभ दिया जाएगा। इस बार करीब 11 लाख विद्यार्थी 10वीं बोर्ड परीक्षा में शामिल हुए थे।जुलाई के प्रथम सप्ताह में रिजल्ट घोषित होने की संभावना है।

Live Cricket

Related Articles

Back to top button
Close
Close