शंंकरपुुर  रोजगार सहायक ने सीख ली संजीवनी विद्या।पत्नी की आईडी मृत कर किया डिलीट, आगन बाडी कार्यकर्ता की नौकरी दिलाने मृतक पत्नी को गाजर मे किया जिन्दा।

अमित श्रीवास्तव।

वैसे तो सीधी जिला पंचायत के दामन पर कई एसे दाग हो जिससे पूरी फिजा दागदार हो चुकी है लेकिन ये दाग एसे दाग है जो अधिकारियों और यहा के कुछ चन्द चहेतो ने लगाये है।लेकिन यह शिलशिला यही नही थमा अब वह रोजगार सहायक भी जिला व जनपद को दागदार कर रहे है।बताते चले कि कुसमी जनपद के रोजगार सहायक शंकरपुर श्रीकांत शुक्ला ने अपनी पत्नी को अपने ग्रामपंचायत शंकरपुर मे मृत साबित कर कुसमी की अन्य ग्रामपंचायत गाजर मे जिन्दा कर दिया।यही नही कुछ दिनो पूर्व एक यादव की आईडी डिलीट कर उसे मृत घोषित कर दिया था जिससे उस यादव को निराश्रृत पेंशन मिलना बन्द हो गया था शिकायत के बाद जनपद पंचायत कुसमी द्वारा रोजगार सहायक श्रीकांत शुक्ला को र्टर्मिनेट कर दिया गया था यह दूसरा मौका है जब रोजगारसहायक शंकरपुर श्रीकांत शुक्ला ने संजीवनी विद्या का उपयोग करते हुए अपनी पत्नी की आईडी के साथ छेडखानी की गई है।

Live Cricket

Related Articles

Back to top button
Close
Close