कूट रचित अभिलेख प्रस्तुत करने के मामले मे गाजर आंगनवाडी कार्यकर्ता की नियुक्ति हुयी निरस्त।प्रभार पाते ही परियोजना अधिकारी कुसमी ने की बडी कार्यवाही।

 

अमित श्रीवास्तव।

सीधी जिले के कुसमी महिला बाल विकास परियोजना अधिकारी अनुसूया बाजपेई ने कुसमी का प्रभार पाते ही आंगनबाड़ी कार्यकर्ता गाजर के खिलाफ एक बड़ी कार्यवाही कर दी है आपको बताते चलें कि गांजर में पदस्थ आगनबाडी कार्यकर्ता श्रीमती वंदना शुक्ला पति श्री कांत शुक्ला पर कूटरचित अभिलेख कार्यालय मे प्रस्तुत करने का आरोप सिद्ध हुआ है।जिससे वंदना शुक्ला की नियुक्ति सेवा समाप्त कर दी है, परियोजना अधिकारी ने पत्र में यह भी उल्लेख किया है कि जब इस संवंध मे श्रीमती वंदना शुक्ला से जवाब मगाया गया तो समाधान कारक जबाब न पाए जाने पर इन की सेवा समाप्ति की कार्यवाही की गई है।यानी यह मान सकते है कि गांजर पंचायत की कार्यकर्ता पद की नियुक्ति अब निरस्त कर दी गई है। जिसकी प्रति कुसमी परियोजना अधिकारी ने सीधी कलेक्टर ,मुख्य कार्यपालन अधिकारी कुसमी,अनुविभागीय अधिकारी कुसमी की ओर प्रेषित कर दी है।

Live Cricket

Related Articles

Back to top button
Close
Close