एसडीएम मझौली के प्रति मंडल कुसमी के भाजपा,व कांग्रेस के जनप्रतिनिधियों का फूटा गुस्सा,उग्र आन्दोलन की दी चेतावनी।

 

अमित श्रीवास्तव।

सीधी जिले के मझौली एस डी एम द्वारा कांग्रेस पार्टी के महामन्त्री आनंद सिहं के साथ किये गए अभद्र व्यव्हार का मामला गरमाता ही जा रहा है।मंडल कुसमी के राजनेताओ ने हल्लावोल शुरू कर दिया है।क्षेत्रीय भा ज पा और कांग्रेस पार्टी के नेताओ में भारी नाराजगी एसडी एम मझौली के प्रति व्यक्ति किया और वरिष्ठ नेताओ को अवगत कर उग्र आन्दोलन करने की रणनीति तैयार करने मे जुट गये है। बताते चले कि  भाजपा मण्डल कुसमी के अध्यक्ष रामानुज पनाड़िया ने कहा कि सवाल भा ज पा कांग्रेस का नही है सवाल जनप्रतिनिधियों और सामाजिक कार्यकर्ताओं का है  अगर कोई जनप्रतिनिधि अच्छी बात के लिए या समस्या का हल करने के लिए किसी अधिकारी के पास जाय और अधिकारी इस तरह का व्यवहार करे दुर्भाग्यपूर्ण है अगर मझौली एस डी एम द्वारा ऐसा कहा गया है तो यह गलत है हम इसका विरोध करते हैं। वहीं कांग्रेस प्रवक्ता श्रीकांत शुक्ला ने घटना की निंदा करते हुए कहा कि ये प्रजातंत्र के खिलाफ है प्रजातंत्र की हत्या है जिसकी मैं घोर निंदा करता हूं जब कोई अधिकारी इस तरह का व्यवहार करने लगता है तब आम आदमी का विश्वास ऐसे अधिकारियों से उठने लगता है प्रवक्ता ने कहा कि अनिन्दा इस तरह से अपना वक्तव्य जारी न करें बल्कि समस्या को जमीन पर उतरकर उसका निदान करने की कोशिश करें ऊपर से डरावने धमकाने का काम बंद हो ये प्रजातन्त्र है हम लोग प्रजातंत्र में रह रहे हैं प्रजातंत्र में विश्वास कर रहे हैं रेत माफियाओं से सांठगांठ इस तरह से एक जनप्रतिनिधि के साथ दुर्व्यवहार करना बहुत ही निन्दनीय है अगर स्थानीय स्तर पर रेत खदानों में मजदूरों को रोजगार नही मिला तो उग्र आंदोलन किया जाएगा।बतादे कि नेता के साथ इस तरह हुुुई घटना को लेकर दोनो पार्टियो के नेताओ ने एकजुट होकर विरोध करने की रणनीति बनाकर रेत माफिया और ऐसे अधिकारियो का विरोध करने का एक शुरू बना लिये है

Live Cricket

Related Articles

Back to top button
Close
Close