मिलाद उन नबी त्यौहार को दृश्टिगत रखते हुये थाना प्रभारी ने रखी कुसमी थाने मे शान्ति समिति की वैठक।

 

अमित श्रीवास्तव।
सीधी जिले के जिला पुलिश अधीक्षक पंकज कुमावत एवं अतिरिक्त पुलिश अधीक्षक अंजूलता पटले के निर्देश पर थाना प्रभारी कुसमी के द्वारा कुसमी थाने मे शान्ति समिति की वैठक का आयोजन किया गया था जहा क्षेत्रीय लोगो से थाना प्रभारी द्वारा आगामी त्यौहार मिलाद उन नबी सहित अन्य त्यौहार को दृष्टिगत रखते हुये विष्तृत चर्चा की गई है।बताते चले कि मिलाद उन नबी त्यौहार को दुनिया भर में पैगंबर हज़रत मुहम्मद साहब के जन्‍मदिन की खुशी में ईद-ए-मिलाद-उन-नबी मनाया जाता है। आलमे-इस्‍लाम के लिए यह बहुत मुबारक दिन माना जाता है। इस्लामिक मान्यताओं के अनुसार, इस्लाम के तीसरे महीने यानी रबी-अल-अव्वल की 12वीं तारीख 571ई में पैगंबर साहब का जन्म हुआ था। कहते हैं कि रबी-उल-अव्वल के 12वें दिन ही मोम्मद साहब का निधन भी हुआ था। इस दिन रात भर इबादत की जाती है, जुलूस निकाले जाते हैं। वहीं इस दिन मुसलमान अपने पैगंबर के पवित्र वचनों को पढ़ते हैं और इन पर अमल करने का अहद करते हैं। इस साल ईद-ए-मिलाद-उन-नबी 30 अक्टूबर को मनाई जाएगी। इस्लामी चंद्र कैलेंडर के अनुसार, भारत में रबी-उल-अव्वल का महीना 19 अक्टूबर से शुरू हो चुका है। जबकि ईद मिलाद उन-नबी 30 अक्टूबर को मनाया जाएगा। इस दिन ईद मिलाद उन नबी की दावत का आयोजन किया जाता है। इसके साथ ही मोहम्मद साहब की याद में जुलूस भी निकाले जाते हैं। हालांकि इस साल कोरोना महामारी के कारण बड़े जुलूस या समारोह के आयोजन की संभावना कम है।साथ ही आने बाले अन्य त्यौहार मे शान्तिव्यवस्था बनाकर त्यौहार मनाने की बात थाना प्रभारी अजय सिहं द्वारा क्षेत्रीय लोगो से कही गई है।वैठक मे क्षेत्रीय ग्रामीण एकत्रित रहे।

Live Cricket

Related Articles

Back to top button
Close
Close